Ethereum के को-फाउंडर ने Michael Saylor को जोकर बताया

ब्लॉकचेन Ethereum के को-फाउंडर Vitalik Buterin ने  बिजनेस सॉफ्टवेयर फर्म MicroStrategy के CEO Michael Saylor की सिक्योरिटीज से जुड़े कानूनों को लेकर की गई टिप्पणी के कारण उन्हें एक जोकर बताया है। Saylor ने कहा था कि इन कानूनों का आधार नैतिकता से जुड़ा है।

Saylor का कहना था, “सिक्योरिटीज कानूनों का आधार झूठ नहीं बोलना और धोखाधड़ी नहीं करना है।” Saylor इस दलील को नहीं मानते कि सिक्योरिटीज कानून बहुत पुराने हैं। वह Ethereum को अनैतिक कहते हैं। उन्होंने पिछले महीने कहा था कि इस ब्लॉकचेन से जुड़ी दूसरी सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी Ether एक सिक्योरिटी है। इसके साथ ही उन्होंने सरकार से क्रिप्टो मार्केट को रेगुलेट करने का निवेदन भी किया था। 

उनकी इस टिप्पणी पर Ethereum कम्युनिटी ने पलटवार करते हुए कहा कि Saylor पर अमेरिका के सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन (SEC) ने कई वर्ष पहले सिक्योरिटीज फ्रॉड का आरोप लगाया था। इस मामले के निपटारे के लिए Saylor को जुर्माना देना पड़ा था। उनकी फर्म पर घाटा होने के बावजूद प्रॉफिट की रिपोर्ट देने का आरोप लगा था। SEC के प्रमुख Gary Gensler का मानना है कि अधिकतर डिजिटल एसेट्स को अनरजिस्टर्ड सिक्योरिटीज की कैटेगरी में रखा जा सकता है। हालांकि, उन्होंने हाल में बिटकॉइन को एक कमोडिटी कहा था। 

हाल ही में Saylor ने बिटकॉइन की वास्तविक वैल्यू पर अपनी राय दी थी। उन्होंने कहा था कि अमेरिका में इन्फ्लेशन के 9.1 प्रतिशत के साथ रिकॉर्ड लेवल पर पहुंचने और डॉलर के मुकाबले अन्य करेंसीज के कमजोर होने के साथ बहुत से लोगों को यह समझ नहीं आ रहा कि 1 बिटकॉइन की वैल्यू 1 बिटकॉइन से अधिक नहीं है। उन्होंने इससे यह स्पष्ट कर दिया कि वह क्रिप्टोकरेंसीज के प्राइस की तुलना सामान्य करेंसीज के साथ नहीं करते और बिटकॉइन के प्राइस पर मैक्रो इकोनॉमिक स्थितियों के कड़े दबाव के बावजूद इसकी वास्तविक वैल्यू पर असर नहीं पड़ा है। हालांकि, MicroStrategy को बिटकॉइन में अपनी होल्डिंग्स पर 1 अरब डॉलर से अधिक का नुकसान है। फर्म के पास जून के अंत में लगभग 1,29,699 बिटकॉइन थे। इन्हें लगभग 30,664 डॉलर प्रति बिटकॉइन के औसत प्राइस पर खरीदा गया था। अमेरिका में स्लोडाउन की आशंका है। इसका बड़ा संकेत CPI इन्फ्लेशन इंडेक्स से मिल रहा है, जो जून में समाप्त हुए 12 महीनों में बढ़कर 9.1 प्रतिशत पर पहुंच गया। यह पिछले 40 से अधिक वर्षों में 12 महीनों की सबसे अधिक बढ़ोतरी है। 

 <!–

–>

भारतीय एक्सचेंजों में क्रिप्टोकरेंसी की कीमतें

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

संबंधित ख़बरें