Sports Bulletin: जरलिन अनिका ने डेफालिंपिक्स में जीता गोल्ड, अमेरिका फुटबॉल फेडरेशन का ऐतिहासिक फैसला, पढ़ें बड़ी खबरें

18 मई का खेल बुलेटिन

डेफालिंपिक्स (Defalympics) में भारतीय खिलाड़ी जरलिन अनिका (Jerlin Anika) का ऐतिहासिक मेडल. आर्चरी वर्ल्ड कप में भारत का शानदार प्रदर्शन जानिए खेल की अहम खबरें

इस समय दुनिया भर में कई बड़े टूर्नामेंट खेले जा रहे हैं जिनमें से कई में भारत के खिलाड़ी भी हिस्सा ले रहे हैं. इन सभी टूर्नामेंट्स की अपडेट्स और भारतीय खिलाड़ियों से जुड़ी अहम जानकारी लिए हाजिर है हमारा खेल बुलेटिन (Sports Bulletin). 18 मई के बुलेटिन में हम आपको अंतरराष्ट्रीय लीग्स से लेकर घरेलू टूर्नामेंट्स के बारे में बताएंगे. यहां हम बधिर ओलिंपिक (Defalympics) में बैडमिंटन खिलाड़ी जरलिन अनिका की ऐतिहासिक सफलता के बारे में बताएंगे. वहीं इसके अलावा भारतीय पुरुष कंपाउंड तीरंदाजी टीम (Indian Compound Archery Team) के शानदार प्रदर्शन के बारे में भी जिन्होंने टॉप टीमों को हराकर गोल्ड जीता.

लंबे समय से अमेरिका फुटबॉल फेडरेशन और महिला खिलाड़ियों के बीच बराबर वेतन को चल रही जंग का अंत हो गया. भारतीय गोल्फर अनिर्बान लाहिड़ी के जीवन में बड़ी खुशी आई है. वह दूसरी बार पिता बने. यूक्रेन पर हमले के समर्थन वाला चिह्न अपनी पोशाक पर लगाने के लिए रूस के जिम्नास्ट इवान कुलियाक पर बैन लगाया गया है.

अमेरिका फुटबॉल संघ का ऐतिहासिक फैसला

अमेरिकी फुटबॉल संघ आखिरकार महिला खिलाड़ियों के सामने झुक गया है. वह दुनिया में पहला ऐसा बोर्ड बन गया है जो कि महिला और पुरुष खिलाड़ियों को एक जैसा वेतन देगा. इसी साल फरवरी में उन्होंने ऐलान किया था कि वह भुगतान के लिए 179 करोड़ भी देगा. 6 साल बाद अमेरिकी फुटबॉल संघ और महिला खिलाड़ियों के बीच समझौता हो चुका है. अमेरिकी महिला वर्ल्ड कप विजेता टीम की खिलाड़ी पुरुष टीम के बराबर समान वेतन और समान सुविधा की मांग पिछले कई सालों से कर रही थीं.

रूस के जिम्नास्ट इवान कुलियाक पर लगा बैन

यूक्रेन पर हमले के समर्थन वाला चिह्न अपनी पोशाक पर लगाने के लिए रूस के जिम्नास्ट इवान कुलियाक पर एक साल का प्रतिबंध लगाया गया है. मार्च में विश्व कप के पदक वितरण समारोह के दौरान इवान ने टेप से अपनी जर्सी पर जेड का चिह्न बनाया था जो यूक्रेन में घुसे रूस के टैंक और सैन्य वाहनों पर देखा जा सकता है. साथ ही इसे युद्ध के समर्थकों ने अपनाया है. अंतरराष्ट्रीय जिम्नास्टिक महासंघ ने कहा कि प्रतिबंध के अलावा इवान को अपना कांस्य पदक भी लौटाना होगा जो उन्होंने समानांतर बार स्पर्धा में जीता था. कतर के दोहा में 20 साल के इवान की स्पर्धा का स्वर्ण पदक यूक्रेन के जिम्नास्ट ने जीता था.

अनिर्बान लाहिड़ी दूसरी बार बने पिता

भारतीय गोल्फर अनिर्बान लाहिड़ी दूसरी बार पिता बने और उनके बेटे का जन्म समय से पहले हुआ जिससे वह 2019 के बाद अपना पहला मेजर टूर्नामेंट खेल पायेंगे. लाहिड़ी की पत्नी इप्सा ने सोमवार को बेटे को जन्म दिया. बच्चा जन्म की तारीख से पहले हुआ जिससे लाहिड़ी को गुरूवार से शुरू हो रही पीजीए चैम्पियनशिप की तैयारी के लिये काफी समय मिल जायेगा. लाहिड़ी ने कहा, परिवार सबसे पहले आता है. मैंने मन बना लिया था कि अगर अव्यान (दूसरे बच्चे का नाम) का जन्म मंगलवार सुबह से बाद हुआ तो मैं मेजर टूर्नामेंट से हट जाऊंगा.’

जरलिन अनिका ने बधिर ओलिंपिक में जीता गोल्ड

ब्राजील में बधिर ओलिंपिक में एक और भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी जे जरलिन अनिका ने स्वर्ण पदक जीतकर नया इतिहास रच डाला. भारतीय पुरूष टीम के बैंकॉक में थॉमस कप जीतने से चंद रोज पहले मदुरै की 18 वर्ष की इस खिलाड़ी ने ब्राजील में 24वें बधिर ओलिंपिक में तीन स्वर्ण पदक जीते. उसने महिला एकल, मिश्रित युगल और मिश्रित टीम में स्वर्णिम सफलता अर्जित की. अनिका के पिता जे जेयर रेचागेन ने पीटीआई से कहा ,वह महिला युगल स्वर्ण भी जीत सकती थी लेकिन नहीं जीत पाने का उसे खेद है. उसे हारने से नफरत है और जब हम ब्राजील से आ रहे थे तो उसने मुझसे पूछा कि लोग बधाई क्यों दे रहे हैं जबकि मैं सभी चार स्वर्ण नहीं जीत सकी.

भारत ने आर्चरी विश्व कप में जीता गोल्ड

भारतीय पुरुष कंपाउंड तीरंदाजी टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए दुनिया की नंबर एक अमेरिकी टीम को क्वार्टर फाइनल में और दक्षिण कोरिया को सेमीफाइनल में हराकर विश्व कप के दूसरे चरण में कम से कम रजत पदक पक्का कर लिया. अभिषेक वर्मा, अमन सैनी और रजत चौहान ने अपेक्षा से बेहतर प्रदर्शन करते हुए अमेरिका को क्वार्टर फाइनल में 234 . 238 से हराया. इसके बाद दक्षिण कोरिया को शूटआफ में हराकर फाइनल में जगह बना ली जहां उनका सामना दुनिया की चौथे नंबर की टीम फ्रांस से होगा.

ओडिशा ने जीती हॉकी इंडिया सीनियर महिला राष्ट्रीय चैम्पियनशिप

ओडिशा ने रोमांचक मुकाबले में कर्नाटक को 2-0 से हराकर मंगलवार को 12वीं हॉकी इंडिया सीनियर महिला राष्ट्रीय चैम्पियनशिप जीत ली. ओडिशा के लिये पूनम बारला ने 34वें और अशीम कंचन बारला ने 59वें मिनट में गोल दागे. दोनों टीमों की शुरूआत अच्छी रही और गोल करने के कई मौके बनाये. दोनेां का डिफेंस भी बेहतरीन था जिसकी वजह से हाफटाइम तक स्कोर गोलरहित बराबरी पर था. पूनम ने तीसरे क्वार्टर में पहला गोल करके ओडिशा को बढत दिलाई. इसके बाद अशीम ने दूसरा गोल किया. तीसरे स्थान के मुकाबले में झारखंड ने हरियाणा को 3-2 से हराया.